अयोध्या विवाद: फैसले से पहले की गई विशेष पूजा अर्चना

अयोध्या के राम जन्म भूमि विवाद पर आज देश की शीर्ष अदालत सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है. सुनवाई होने से पहले यहां संगमनगरी में लेटे हुए हनुमान मंदिर में इस फैसले को लेकर सुंदरकांड का पाठ किया गया है.

श्री राम जन्मभूमि विवाद के फैसले के लिए आज लेटे हुए हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा सहित सुंदरकांड का पाठ किया जा रहा है. संगम नगरी में भक्तों ने फैसला अपने हित में लाने के लिए पूजा पाठ करना शुरू कर दिया है. सुंदरकांड पाठ के दौरान अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि के नेतृत्व में झूठे सभी संतो ने लगातार 51 बार हनुमान चालीसा समेत सुंदरकांड का पाठ कर अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण की कामना की है.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरी के मुताबिक श्रीराम के सभी कार्य हनुमान जी पूरे करते हैं. इसी को देखते हुए अयोध्या विवाद की सुनवाई होने से पहले विशेष प्रकार की पूजा अर्चना की गई है. महंत नरेंद्र गिरी ने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट फैसला राम मंदिर के पक्ष में ही सुनाएगा और जल्दी विवादित स्थल पर भव्य राम मंदिर का निर्माण भी शुरू हो जाएगा. सुप्रीम कोर्ट ने पिछले वर्ष 5 दिसंबर को यह स्पष्ट किया था कि वह 8 फरवरी से इन सभी याचिकाओं पर अंतिम सुनवाई शुरू करेगी. विभिन्न पक्षों से इसी बीच जरूरी संबंधित कानूनी कागजात सौंपने का निर्देश भी दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here