3 साल में केंद्र सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया- अन्ना हजारे

केंद्र सरकार के खिलाफ एक बार फिर से समाजसेवी अन्ना हजारे 23 मार्च 2018 को रामलीला मैदान में अनिश्चितकालीन अनशन शुरू करने वाले हैं. वह किसानों, भ्रष्टाचार और जनलोकपाल की समस्याओं पर केंद्र सरकार के खिलाफ अनिश्चितकालीन अनशन शुरू करने वाले हैं. अन्ना हजारे ने बीजेपी सरकार पर बिल संशोधन के नाम पर जनता के साथ धोखा करने का आरोप लगाया है. अन्ना हजारे ने कहा है कि वह 40 साल से आंदोलन कर रहे हैं और वह किसी पद पार्टी और व्यक्ति के सामने नहीं रहते बल्कि समाज और देश के सामने रहते हैं

अन्ना ने कहा कि एक बार फिर से वह समाज के भले के लिए दिल्ली में आंदोलन करने जा रहे हैं और यह किसी पक्ष या पार्टी के लिए नहीं है. समाजसेवी अन्ना हजारे के अनुसार केंद्र में बीजेपी को 3 साल हो गए हैं लेकिन अभी तक बीजेपी ने किसानों के लिए कोई भी काम नहीं किया है. अन्ना कहा कि कुछ दिन पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेटर लिखा था इस लेटर में कहा गया था कि बीजेपी सरकार को जितनी चिंता उद्योगपतियों की है उतनी चिंता सरकार को किसानों की भी करनी चाहिए. लेटर में अन्ना ने कहा था कि 3 साल में मोदी सरकार ने करोड़ों रुपए का कर्ज उद्योगपतियों का माफ कर दिया लेकिन अभी तक भ्रष्टाचार पर कोई लगाम नहीं लगाई और ना ही जन लोकपाल बिल में अपनी कोई भागीदारी दिखाइए हैं. अन्ना ने कहा था कि किसानों से सरकार चक्रवर्ती ब्याज वसूल करने में लगी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here