शिवसेना ने किया ऐलान, अकेले लड़ेगी 2019 के लोकसभा-विधानसभा चुनाव

हुआ वही जिस का अनुमान लगाया जा रहा था. सहयोगी पार्टी होते हुए भी बीजेपी पर निशाना साधने का मौका नहीं छोड़ने वाली शिवसेना ने अगले आम चुनाव को लेकर बड़ा ऐलान किया है. शिवसेना ने एलान करते हुए कहा है कि 2019 के विधानसभा और लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी. इसकी जानकारी पार्टी के नेता संजय राउत ने दी है. संजय राउत ने बताते हुए कहा कि शिवसेना की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अहम फैसला लिया गया है, लेकिन अभी भी महाराष्ट्र सरकार के साथ गठबंधन बरकरार है.

काफी समय से शिवसेना महाराष्ट्र और केंद्र में भाजपा की अहम सहयोगी बनी रही है. वर्तमान में महाराष्ट्र में दोनों पार्टियों की मिली जुली सरकार है, लेकिन काफी समय से दोनों पार्टियों के बीच वाद-विवाद जगजाहिर है. शिवसेना पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा है कि उनकी पार्टी हिंदुत्व की रक्षा करने के लिए हर राज्य में चुनाव लड़ेगी. ठाकरे ने कहा कि हिंदू वोट में फूट ना पड़े इसलिए हम अभी तक महाराष्ट्र से बाहर नहीं गए, लेकिन अब शिवसेना हर राज्य में हिंदुत्व को बचाने के लिए चुनाव लड़ेगी.

शिवसेना की हुई कार्यकारिणी बैठक में पेश किए गए प्रस्ताव में कहां गया की उसने गठबंधन बनाए रखने के लिए हमेशा समझौता किया, लेकिन भाजपा ने शिवसेना को नीचा दिखाने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी. पार्टी ने कहा ‘शिवसेना अब गरिमा के साथ चलेगी’.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here