असदुद्दीन औवैसी: रिजवी ने अपनी आत्मा आरएसएस को बेची

उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी मदरसों को खत्म करने की मांग की है. प्रधानमंत्री को लिखी एक चिट्ठी में शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने यह मांग की है. उनके मुताबिक मदरसा शिक्षा को अब मुख्य धारा से जोड़ा जाना चाहिए इसके साथ ही उन्होंने मदरसा शिक्षा की जगह आधुनिक शिक्षा पर जोर देने की बात कही है.

वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ने लिखी प्रधानमंत्री को लिखी इस चिट्ठी में कई गंभीर सवाल उठाए है. इस चिट्ठी में लिखा है की क्या मदरसों ने डॉक्टर, इंजिनियर और आईएएस अफसर पैदा किए है. इसके साथ ही उन्होंने इन सभी मदरसों पर गंभीर आरोप लगाते हुए लिखा है की कुछ मदरसों ने आतंकी जरुर पैदा किए है. उनकी इस लिखी चिट्ठी में कुल ऐसे 27 बिंदु दिए गए हैं. जिनमें से एक आतंकी फंडिंग को लेकर है. रिजवी ने लिखा है की ज्यादातर मदरसे जकात के पैसों से चल रहे हैं जोकी भारत, बांग्लादेश और पाकिस्तान जैसे देशों से आ रहा है. इस अवैध फंडिंग से ज्यादातर मदरसे चल रहे हैं. इसकी जांच की भी मांग की गई है. इतना ही नहीं मदरसों पर रिजवी ने बम बनाने की ट्रेनिंग देने का आरोप लगया है.

इस पर कट्ट्ररवादी नेता और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन औवैसी ने इसे रिजवी को सबसे बड़ा अवसरवादी करार दिया है. साथ ही उन्होंने कहा की रिजवी ने अपनी आत्मा आरएसएस को बेच दी है. मैं रिजवी को चुनौती देता हूं की वह मुझे कोई एक मदरसा ऐसा बता दें जहां पर इस तरहा की पढ़ाई कराई जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here