Republic Day 2018: आन-बान-शान के साथ खत्म हुई परेड, दुनिया ने देखी भारत की ताकत

शुक्रवार को पूरा देश 69वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. राजपथ पर इस दिन काफी सुंदर परेड निकाली जा रही है. परेड की शुरुआत आसियान देशों के दस्तों के साथ हुई है. 69वें गणतंत्र दिवस के मौके पर आसियान देशों के प्रमुखों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है. शुरुआत में पीएम मोदी ने सभी प्रमुखों का खुद स्वागत किया है. जिसके बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का यहां आगमन हुआ और उन्होंने वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को अशोक चक्र से सम्मानित किया है. अशोक चक्र शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता का सम्मान होता है.

गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को बधाई भी दी है.

 

69वें गणतंत्र दिवस के मौके पर पहली बार हो रहा है कि महिला शक्ति अपना प्रदर्शन दिखा रही हैं. इस बार पहली बार हुआ है कि मोटरसाइकल पर करतव दिखाते हुए देश कि महिला शक्ति को दिखाया गया है. राजपथ पर कई सारे वीआईपी लोग भी नजर आए हैं. वीआईपी की लिस्ट में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, एच डी देवगौड़ा, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी समेत कई सारे दिग्गजों को देखा गया है.

जिस वक्त लोगों को महिला शक्ति दिखाई गई उसके बाद सभी कि निगाहे आसमान पर ही बनी रही. महिला शक्ति के बाद अब बारी थी आसमान में अपनी ताकत दिखाने की ऐसे में सुखोई, एमके 4, सुपर हरक्यूलिस, ग्लोबमास्टर, जगुआर विमान सभी के आकर्षण का केंद्र बन गए. 69वें गणतंत्र दिवस के मौके पर देश की कई राज्यों की झाकियों को प्रकाशित किया गया. कई सारी झांकियों में रामायण की झांकी को भी प्रस्तुत किया गया.

स्वाति रडार का दम भी राजपथ पर देखने को मिला. इस रडार के बारे में बताया जाए तो एक साथ यह सात जगहों पर वार करने में सक्षम है.

यह रडार एक साथ सात जगहों को टारगेट कर सकता है. परेड में सीमा सुरक्ष बल का दस्ता भी नजर आया. जिसके बाद ऊंटों वाले दस्ते ने सभी को निगाहें अपनी ओर करा ली.

ऊटों वाले दस्ते के बारे में बताया जाए तो इसकी सवारी करना काफी कठिन होता है और काफी ट्रेनिंग के बाद ही ऐसा किया जा सकता है. इस ऊंट 5 साल के उम्र में देश की सेवा के लिए आते हैं और 15 साल के लिए यह देश की सेवा करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here