नोटबंदी एक साल: बीजेपी के खिलाफ राहुल का हल्ला बोल

नोटबंदी का 1 साल पूरा हो जाने के अवसर पर बीजेपी जश्रन बनाने के लिए लगी हुई है, तो सुबह से ही विपक्षी पार्टी के नेता व कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बीजेपी को आड़े हाथों लेने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश में सांप्रदायिक नफरत फैलाई है। उन्होंने कहा कि कि मोदी ने देश की आर्थिक स्थिति को काफी चोट पहुंचाया है और राहुल गांधी ने के अनुसार जीडीपी दो प्रतिशत कम पीएम मोदी के कारण हुई है।

Rahul gandhi

राहुल गांधी के अनुसार मोदी ने अपने फैसले के कारण जो अर्थव्यवस्था पहले अच्छी तरह से चल रही थी उसको चोट पहुंचाया है तथा लोगों का विश्वास डूबा दिया है। राहुल ने कहा है कि 1 साल में पीएम मोदी ने भारतीय रिजर्व बैंक की अनदेखी कर दी थी और एक कमरे में अपने कैबिनेट के मंत्रियों को बंद करके 1000 और 500 के नोट को चलन से बाहर कर दिया था। हालांकि प्रधानमंत्री की तरफ से यह दावा किया गया है कि नोटबंदी का फैसला भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के लिए गया था, लेकिन कांग्रेस की तरफ से बार-बार आरोप लगाया जाता है कि नोटबंदी के कारण अर्थव्यवस्था पर भारी चोट हुई है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि नोटबंदी के बाद पहले ही 4 महीनों में लोगों ने अपने रोजगार गांव दिया थे।

नोटबंदी के कारण व्यापारियों को खासा नुकसान पहुंचा। राहुल गांधी के अनुसार एक तरफ जहां लोगों को नोटबंदी के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ा था। अब उनकी परेशानियों को और बढ़ाने के लिए जीएसटी आ गई है, जीएसटी पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जीएसटी के कारण छोटे व्यापारियों को अपना व्यापार बंद करना पड़ रहा है तथा आज लोग खाने खाने के मोहताज हो गए हैं। राहुल गांधी के अनुसार जीएसटी को लागू करने पर सही तरह से फैसला नहीं लिया गया। राहुल ने यह आरोप लगाया कि जल्दबाजी में जीएसटी लागू करने के कारण पूरी अर्थव्यवस्था ख़राब हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here