एक ही झटके में चली गई हजारों नौकरियां, जाने क्या है मामला

पहले चोरी फिर सीनाजोरी, देश के बैंकों और करीब साढे़ 11 हजार करोड़ लेकर भागे निरव मोदी और मेहुल चौकसी अब खुलेआम सीनाजोरी पर उत्तर आए हैं. ताजा मामला चौकसी से जुड़ा है. मेहुल चौकसी ने अपनी कंपनी के कर्मचारियों के नाम पर एक पत्र लिखा है. जिसमें लिखा गया है कि वह दूसरी नौकरी ढूंढें, उनके पास वेतन देने तक के लिए पैसे नहीं हैं.

बता दें इससे पहले नीरव मोदी ने भी पंजाब नेशनल बैंक को चिट्ठी लिखकर पैसा वापस करने में असमर्थता जताई थी. नीरव मोदी ने बैंक पर आरोप लगाते हुए लिखा था कि पंजाब नेशनल बैंक ने घोटाले को उजागर कर उनके ब्रांड को नुकसान पहुंचाया है, ऐसे में अब वह बैंक से लिया कर्ज वापस करने में असमर्थ हैं और अब चौकसी ने अपने कर्मचारियों को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने वेतन देने में असमर्थ असमर्थता जताई है. उन्होंने पत्र में अपने आप को निर्दोष भी बताया है. उन्होंने लिखा कि वह निर्दोष है जिसे साबित करने में समय लगेगा.

ऐसे में नीरव मोदी की कंपनियों में काम करने वाले हजारों लोगों की एक झटके में नौकरी चली गई. आपको बता दें मेहुल चौकसी करीबन 22 बड़ी कंपनियों के मालिक हैं. चौकसी, नीरव मोदी के मामा है और दोनों ही मामा-भांजे इस वक्त देश से फरार चल रहे हैं.