क्या पेट्रोल व डीजल फिर होगा महंगा

petrol price hike soon

मंगलवार शाम सेंसेक्स फिर एक फिर मुंह के बल गिरा। इस गिरावट की सबसे बड़ी वजह बाजार में कच्चे तेल में कि किमत में आया उछाल माना जा रहा है। आपको बता दें फिलहाल अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 64.2 डॉलर प्रति बैरल हो गई है। जो कि इससे पहले यह कीमत $50 प्रति बैरल हुआ करती थी। माना जा रहा है कि सऊदी अरब में चलते राजनीतिक हालातों की वजह से तेल की कीमतों में उछाल साफ देखा जा सकता है और इसी वजह से सेंसेक्स करीब 360 अंक गिरकर 33,371 पर बंद हुआ तो वही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 102 अंक गिरकर 10 हजार 350 पर बंद हुआ।

 

एक्सपर्ट्स की माने तो अभी कच्चे तेल की कीमत $70 प्रति बैरल तक जा सकती है, इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अभी बाजार और भी ज्यादा गिर सकता है। जाहिर सी बात है क्रूड ऑयल यानी कच्चे तेल महंगे होने की वजह से तेल कंपनियों का मुनाफा भी अब कम हो गया है। अब देखने वाली बात यह है, क्या तेल कंपनियां तेल के दामों में कोई बढ़ोतरी करेंगे?

क्योंकि ऐसा अक्सर देखा गया है जैसे ही क्रूड ऑयल महंगा होता है भारत में तेल कपंनीयां अपने दाम बढ़ा देती है। मगर पिछले साल जून कि बात करें तो क्रूड ऑयल काफी कम दाम में बिक रहा था। मसलन जहां जून में 44 डॉलर प्रति बैरल तेल की कीमत थी, तभी तेल कंपनियों ने तेल कीमतों में कोई कटौती नहीं की थी। तेल कंपनियों का कहना था कि वह तेल वह तेल की कीमतों में इसलिए कटौती नहीं कर रहे हैं, क्योंकि अभी उनका बकाया घटा काफी रहता है।

ऐसे में देखना दिलचस्प होगा क्या तेल कंपनियां पहले से ही महंगे पेट्रोल व डीजल की कीमतों में कुछ बदलाव करती है या अपनी कीमतों पर बनी रहती है। इसी बीच रुपया और डॉलर के मुकाबले काफी कमजोर हो गया है, मंगलवार को बंद हुए आंकड़े में रुपया जहां 65.03 पर बंद हुआ तो वही सोमवार को रुपए में तेजी देखी गई और रूपया मजबूती के साथ 64.68पर सोमवार को बना रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here