पीएम के भाषण पर जेटली की सफाई के बाद खत्म हुआ संसद का डेडलॉक

बुधवार को संसद का डेडलॉक खत्म हो गया है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान के बाद मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस की मांग पर क्रिसमस की छुट्टियों के बाद संसद सत्र शुरू हुआ. जिसके बाद राज्य सभा में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस मामले पर सफाई पेश की है. अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री मोदी के बयान के मामले में सफाई पेश करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में किसी भी तरह की तरह से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की देशभक्ति और निष्ठा पर सवाल नहीं खड़ा किया था और ऐसा करना कि हम मोदी के मन में भी नहीं था. अरुण जेटली ने कहा कि हम दोनों ही नेताओं का सम्मान करते हैं और दोनों ही नेताओं की देश के लिए उनकी प्रतिबद्धता को भी मानते हैं.

parliament deadlock ended after jaitley clean up on pm speech  pm modi, parliament, arun jaitley, deadlock, clean up, bjp, congress

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के बयान के वक्त प्रधानमंत्री मोदी संसद में मौजूद नहीं थे. वही जेटली के बयान के बाद राज्यसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद का बयान भी सामने आया उन्होंने कहा कि हम नेता सदन के बयान का सम्मान करते हैं और वह यह कहना चाहते हैं कि वह खुद भी प्रधानमंत्री के पद की गरिमा का ख्याल रखते हैं और यह प्रधानमंत्री के पद की गरिमा को गिराना नहीं चाहते .इसलिए चुनाव प्रचार के दौरान पीएम के खिलाफ की गई किसी टिप्पणी और बयान का समर्थन नहीं करते हैं. गुलाम नबी आजाद ने कहा कि प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई भी आपत्तिजनक बयान नहीं दिया जाना चाहिए.

आपको बता दें कि गुजरात में प्रचार के दौरान बनासकांठा से पालनपुर में प्रधानमंत्री मोदी ने एक रैली को संबोधित किया था और यह आरोप लगाया था कि गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीमा पार से मदद ले रहे हैं. इसके बाद पीएम मोदी ने मणिशंकर अय्यर के ‘नीच’ वाले बयान को पाकिस्तान से जोड़ा था और कहा था कि मैं शंकर अय्यर के घर पाकिस्तानी उच्चायोग और वहां के पूर्व विदेश मंत्री की गुप्त मीटिंग हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here