कश्मीर मुद्दे पर घिरी बीजेपी, चिदंबरम ने किया वार

एक बार फिर से कांग्रेस की तरफ से बीजेपी सरकार पर कश्मीर में बढ़ती आतंकी गतिविधियों के मुद्दे पर हमला बोला गया हैं. पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर एक बार फिर से हमला किया हैं. पी चिदंबरम ने लिखा है कि वक्त वक्त पर हम यह याद दिला रहे हैं कि जम्मू कश्मीर राज्य के लेकर चिंताएं हैं. पी चिदंबरम ने कहा कि राज्यों की चिंताओं को लेकर आखिरी रिमाइंडर 30 और 31 दिसंबर 2017 को सामने आया था.

उस वक्त आतंकियों ने सीआरपीएफ ट्रेनिंग सेंटर पर धावा बोल दिया था, जिसमें सीआरपीएफ के 5 जवान शहीद हो गए थे. चिदंबरम ने कहा कि सेना और पुलिस के जवान लगभग हर रोज शहीद हो रहे हैं क्या सरकार स्पष्टीकरण देगी और बताएं कि यह सब कब खत्म होगा? गुजरात चुनाव के मुद्दे पर बोलते हुए चिदंबरम ने कहा कि केंद्र सरकार ने दिनेश्वर शर्मा को बतौर विशेष प्रतिनिधि नियुक्त कर दिया था लेकिन उद्देश्य स्पष्ट नहीं था. चिदंबरम के अनुसार संकेत दिए गए थे कि विषेश प्रतिनिधी उन सभी से बात करेंगे. जो हमसे बात करना चाहते हैं जिसमें दावा किया गया था की घाटी में हो रही आतंकी गतिविधियों को कम किया जा सकता है लेकिन ऐसा हुआ है क्या?

चिदंबरम ने कहा कि राज्य के मुद्दे पर राजनीतिक समाधान खोजने के लिए लगातार कार्य करने की जरूरत है और इसके लिए समाधान निकालना अनिवार्य हो गया हैं. चिदंबरम ने कहा कि इस मुद्दे को खत्म करने के लिए लगातार प्रयास पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेई और पूर्व पीएम डॉक्टर मनमोहन सिंह को हमेशा याद किया जाएगा. इजाज राम ने ट्वीट करता था कि जम्मू और कश्मीर में साल 2014 से लेकर अब तक हुए आतंकी घटनाओं को लेकर एक अंकाड़ा दिया हैं. जिसके अनुसार साल 2014 में 28 नागरिकों 110 आतंकी मारे गए और सुरक्षाबलों के 47 जवान शहीद हो गए थे. साल 2015 में 17 नागरिक 108 आतंकी और सुरक्षाबलों के 108 जवान शहीद हुए थे. साल 2016 में 15 नागरिक डेढ़ सौ आतंकी मारे गए थे और सुरक्षाबलों के 82 जवान शहीद हुए थे. साल 2017 में 40 नागरिक 206 आतंकी मारे गए थे और सुरक्षाबलों के 75 जवान शहीद हुए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here