नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल का आदेश, 50 हजार से ज्यादा नहीं श्रद्धालु

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने अब वैष्णो देवी के दरबार में जाने वाले भक्तों की संख्या तय कर दी है। एनजीटी के मुताबिक अब एक दिन में 50 हजार से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन नहीं कर सकेंगे। एनजीटी ने यह आदेश श्रद्धालुओं की सुरक्षा के नजरिए से सुनाया है। आपको बता दें इससे पहले ऐसी कोई रोक वैष्णो देवी जाने पर नहीं थी।

Mata vaishno devi

ट्रिब्यूनल के मुताबिक अगर दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 50,000 से ऊपर होती है तो उन्हें अर्द्धकुवांरी या कटरा पर ही रोक लिया जाए और इसके साथ-साथ एनजीटी ने वैष्णो देवी मंदिर के आस-पास या उसके रास्ते पर किसी भी नया निर्माण कार्य नहीं करने का भी फैसला सुनाया है। निर्माण ना करने का फैसला बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए लिया गया है। आपको बता दें जम्मू कश्मीर की पहाड़ियों पर स्थित वैष्णो देवी मां का मंदिर प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है। इस मंदिर की ऊंचाई 5,200 है। भारत में यह दूसरा सबसे सर्वाधिक देखे जाने वाला तीर्थ स्थल है। नवरात्रि में तो यहां भक्तों का तांता लगा रहता है। नवरात्रि में लगभग रोज करीब एक लाख से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन करते हैं। कई बार तो संख्या इतनी बढ़ जाती है की कटरा काउंटर से भी पर्ची देना बंद करना पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here