AIMPLB से निकाले गए मौलाना नदवी, मस्जिद शिफ्ट करने का दिया था फॉर्मूला

अयोध्या में राम मंदिर का समर्थन करने वाले और मस्जिद को दूसरी जगह शिफ्ट करने का फॉर्मूला सामने रखने वाले मौलाना सलमान नदवी को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से निकाल दिया गया है. मस्जिद को शिफ्ट करने का फार्मूला जब उन्होंने सुझाया था तभी से बोर्ड उनसे नाराज चल रहा था. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से मौलाना सलमान नदवी को निकालने का फैसला तीन दिवसीय बैठक में लिया गया है जो कि हैदराबाद में चल रही थी.

maulana salman nadvi ousted from muslim law board member by aimplb    maulana salman nadvi, ousted, muslim law board member, aimplb, shri shri ravi shanker
AIMPLB

AIMPLB मौलाना सलमान नदवी एग्जीक्यूटिव सदस्य थे. ऐसे में माना जा रहा है कि कोर्ट से बाहर राम मंदिर मुद्दे को सुलझाने कि कोशिश को मौलाना सलमान नदवी के ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड से निकाले जाने के बाद एक बड़ा झटका लगा है. मस्जिद को शिफ्ट करने का प्रस्ताव AIMPLB की बैठक से पहले मौलाना सलमान नदवी ने रखा था. उन्होंने बातचीत कर अयोध्या विवाद सुलझाने की सलाह दी थी और मस्जिद को किसी और जमीन पर बनवाने का प्रस्ताव रखा था जिसके बाद काफी सारा विवाद हुआ था और फिर हैदराबाद में AIMPLB की बैठक हुई थी जिसमें नदवी आए ही नहीं लेकिन उनकी मुलाकात आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर से हुई थी.

इस सब के बाद AIMPLB की बैठक में मौलाना सलमान नदवी को निकाल देने का फैसला लिया गया. देखने वाली बात यह है कि AIMPLB अभी भी बाबरी मस्जिद को लेकर अपने पुराने स्टैंड पर कायम है. बोर्ड की तरफ से यह साफ किया गया है कि बाबरी मस्जिद के लिए ना तो समर्पित जमीन बेची जाएगी और ना ही उपहार में दी जाएगी तथा इसे त्यागा भी नहीं जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here