आयकर विभाग ने बिटकॉइंस एक्सचेंज पर की छापेमारी

आयकर विभाग ने बुधवार को देशभर में हो रही बिटकॉइन एक्सचेंज में छापेमारी की है. कथित कथित रूप से हो रही चोरी के मामले में आयकर विभाग ने यह छापेमारी की. आयकर विभाग की विभिन्न टीमों ने अलग-अलग क्षेत्रों में बिटकॉइन एक्सचेंज की पड़ताल की और विभिन्न टीमों ने दिल्ली, हैदराबाद, गुरुग्राम बेंगलुरु, कोच्चि समेत 9 बिटकॉइन एक्सचेंज परिसरों की पड़ताल की.

Income Tax Department raids on Bitcoin Exchange  Income Tax Department, raids, Bitcoin Exchange, police, crime
income tax department a

आयकर विभाग की ओर से यह कार्रवाई टैक्स लॉ केस सेक्शन 133ए के तहत की गई है. जिसका मकसद निवेशक और व्यापारियों की पहचान का पता लगाना था. उनके द्वारा किए गए सौदे, दूसरे पक्षों की पहचान करना और इस प्रक्रिया में इस्तेमाल किए गए सभी बैंक खातों का पता लगाना आयकर विभाग का मकसद था.

सूत्रों के अनुसार छापेमारी करने वाली आयकर विभाग की टीम इन सभी एक्सचेंजों के बारे में अलग-अलग प्रकार के वित्तीय आंकड़े और अन्य चीजें पता लगाना चाहती है. माना जा रहा है कि भारत में बिटकॉइन एक्सचेंज के खिलाफ यह सबसे बड़ी कार्रवाई है. आपको बता दें कि बिटकॉइन आभासी मुद्रा है भारत में इसका रेगुलेशन नहीं होता है. बिटकॉइन के दुनिया भर में बढ़ते चलन के कारण दुनिया भर के केंद्रीय बैंक चिंतित है. भारतीय रिजर्व बैंक ने बिटकॉइन को एक आभासी मुद्रा माना है और इसे रखने वालों को इसके बारे में आगाह किया है. वित्त वर्ष मार्च महीने में केंद्रीय वित्त मंत्रालय दूसरे देशों और वैश्विक स्तर पर इस आभासी मुद्रा पर एक अंतर अनुशासनात्मक समिति का गठन किया था. जिसके बाद बिटकॉइंस पर पहली बार भारत में कार्रवाई की गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here