हस्ताक्षर विवाद: राहुल गांधी ने कहा- हम धर्म को लेकर दलाली नहीं करते हैं

इन दिनों धर्म को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी विवादों के घेर में आ रखे हैं। इस बीच उन्होंने अपने परिवार को शिवभक्त बताया है। राहुल गांधी ने कहा है कि उनका परिवार शिवभक्त है लेकिन किसी भी प्रकार से वह इसे राजनीतिक फायदे के रूप में नहीं लेना चाहते हैं। यह सब कुछ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने बंद कमरे में हुई व्यापारियों के साथ बैठक को संबोधित करते हुए कहा है। राहुल गांधी ने कहा कि वह धर्म को लेकर दलाली नहीं करते हैं और अपने धर्म को लेकर उन्हें किसी को भी सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं है।

gujarat assembly election rahul gandhi says we not broker of religion    gujarat assembly election, rahul gandhi, broker of religion, congress, bjp, pm modi, congress vice president
rahul gandhi

राहुल गांधी ने कहा कि वह जब मंदिर के अंदर गए तो उन्होंने रजिस्टर पर अपने साइन किए। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने दूसरे रजिस्टर में उनका नाम लिख दिया। वही इस दौरान राहुन ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू और सरदार वल्लभभाई पटेल के बीच कुछ राजनैतिक और विचारधारात्मक विवाद जरूर था लेकन इस सब के बावजूद वह एक दूसरे के मित्र थे।

गैर हिंदुओं वाले रजिस्टर के विवाद पर बोलते हुए राहुल ने सफाई दी है कि कुछ बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सोमनाथ मंदिर में उनका नाम इस रजिस्टर में दर्ज कर दिया जिस कारण यह सारा विवाद खड़ा हो रहा है। राहुल गांधी के अनुसार उनका परिवार शिवभक्त है लेकिन वह इन सभी चीजों को निजी ही रखना पसंद करते हैं और वह लोगों से इस बारे में बातचीन नहीं करते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि यह सब कुछ हमारा व्यक्तिगत मामला है और उन्हें इसके लिए किसी को सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं है। राहुल गांधी ने कहा कि वह धर्म को लेकर दलाली नहीं करना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here