के.वी.पुटप्पा को गूगल ने किया सम्मानित

गूगल ने अपना डूडल के.वी.पुटप्पा के सम्मान में बनाया है. कुप्पाली वेंकटप्पागौड़ा पुटप्पा का जन्म 29 दिसम्बर सन् 1904 में कर्नाटक के कुपल्ली तीर्थहल्ली ताल्लुक, शिवमोगा जिला में हुआ था. के.वी.पुटप्पा की मृत्यु 11 नवम्बर 1994 में 89 की उम्र में कर्नाटक के मैसूर में हुआ था. के.वी.पुटप्पा का उपनाम केवेम्यू था. के.वी.पुटप्पा पेशे से लेखकऔर प्राध्यापक थे. के.वी.पुटप्पा एक कन्नड़ के प्रसिद्ध लेखक एवं कवि थे. उन्हे 20वीं शताब्दी के महानतम कन्नड़ कवि की उपाधि दी गई है. के.वी.पुटप्पा कन्नड़ भाषा में ज्ञानपीठ सम्मान पाने वाले सात व्यक्तियों में से प्रथम है. पुटप्पा ने कई साहित्यिक कार्य उपनाम ‘कुवेम्पु’ से किये है. पुटप्पा को साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पद्दाभूषण से सम्मानित किया गया है.

google honored by make doodle kv kupappa   Kuppali Venkatappa Puttappa, respected, google, doodle, kannada, Writer

पुटप्पा अपने समय के महान लेखक थे और इन्होंने कई लेख लिखे जो की आज भी लोगों के बीच जीवित है. कहते है मुष्य मर जाता है लेकिन उसकी यादें उसके काम लोगों के बीच में उसकी याद बन कर रह जाते है. उन्हीं कुछ महान लोगों में से थे कुटप्पा. गूगल ने अपना डूडल कुटप्पा की याद में बनाते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है. गूगल समय समय पर विश्व के महान लोगों को अपने डूडल द्वारा सम्मानित करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here