बेटे के घर पर हुई छापेमारी, पी चिदंबरम ने उठाए सवाल

कथित आईएनएक्स मीडिया रिश्वतखोरी मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रह चुके पी चिदंबरम के पुत्र कार्ति चिदंबरम के दिल्ली और चेन्नई के आवासों पर छापेमारी की है. सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि ईडी के अधिकारियों ने शनिवार सुबह कार्ती चिदंबरम के घर पर छापेमारी कर दी थी. परिवर्तन निर्देशालय के अधिकारी शनिवार सुबह 7:30 बजे उनके आवास में छानबीन करने घुसे और 11 बजे उनकी आवाज से बाहर निकले. कार्ती चिदंबरम के आवास पर छापेमारी के दौरान विवर्तन निर्देशालय के 5 अधिकारी मौजूद थे.

मिली जानकारी के मुताबिक एयरसेल-मैक्सिस डील से जुड़ी कथित अनियमितताओं के मामले में परिवर्तन निर्देशालय के अधिकारियों ने दिल्ली और चेन्नई में स्थित पांच जगहों पर छापेमारी की हैं. इन पांच स्थानों में से एक ठिकाना दिल्ली के जंगपुरा में हैं, जबकि अन्य चार चेन्नई में बताए जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि ईडी अधिकारियों की छापेमारी के वक्त पी.चिदंबरम के बेटे कार्ति अपने चेन्नई के आवाज स्थल पर मौजूद नहीं थे. इस छापेमारी के बाद चिदंबरम के वकील ने कहा कि ईडी अधिकारियों को छापेमारी के दौरान कुछ भी नहीं मिला है.

पी.चिदंबरम ने ईडी की छापेमारी पर कई सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा है कि ईडी की छापेमारी का कोई अधिकार नहीं है. ईडी के छापे पर चिदंबरम ने कहा कि मामले में सीबीआई या किसी भी अन्य एजेंसी द्वारा कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुआ है. मुझे लगा था कि ईडी के अधिकारी चेन्नई के घरों की तलाशी ले सकते हैं लेकिन वह दिल्ली जोरबाग में स्थित आवास पर पहुंच गए. मामले में अधिकारियों ने मुझे बताया हैं कि उन्होंने सोचा था कि कार्ति घर के मालिक हैं लेकिन ऐसा नहीं है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के घर पर ईडी की छापेमारी पर कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा के पी.चिदंबरम के साथ-साथ अब उनके बेटे के खिलाफ भी साजिश रचने लगे हैं लोग. पीएम मोदी और उनकी सरकार सीबीआई और ईडी का इस्तेमाल विपक्ष के खिलाफ लगातार इस्तेमाल कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here