केंद्र सरकरार ने हज सब्सिडि को किया बंद, लोग दे रहे अलग-अलग प्रतिक्रिया

केंद्र की मोदी सरकार ने एक धार्मिक यात्रा पर दी जाने वाली सब्सिडि को खत्म कर दिया है. केंद्र सरकार ने हज यात्रा पर दी जाने वाली सब्सिडि को खत्म कर दिया है. हज यात्रा पर दी जाने वाली सब्सिडि को केंद्र सरकार द्वारा बंद किए जाने पर मुस्लिम समाज ने खुशी व्यक्त की है. केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है की जो रकम हज की यात्रा के लिए लोगों को दिया जाता था वह अब नहीं दिया जाया करेगा, इस पैसे को सरकार अब लड़कियों की शिक्षा पर खर्ज करेगी. इसी के साथ नकवी से बताया की वर्तमान साल में 1.75 लाख मुस्लमान हज यात्रा पर जाएंगे और ऐसा इतिहास में पहली बार हो रहा है की इतनी ज्यादा संख्या में यात्री हज की यात्रा करने जाने वाले है.

हज की यात्रा पर जाने के लिए दी जाने वाली सब्सिडि के पैसों को सरकार अब लड़कियों और महिलाओं को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए खर्ज करेगी. नकवी ने बताया की हज यात्रा पर जो सब्सिडि यात्रीयों को दी जाती है उसका फायदा एजेंट्स ही उठा रहे थे, इसलिए अब हज सब्सिडि को बंद कर दिया गया है. गरीब मुस्लमानों के लिए सरकार दूसरी व्यवस्था करेगी.

आपको बता दें की सुप्रीम कोर्ट ने 2012 से 2022 तक सब्सिडि को बंद करने के लिए कहा था. बीती साल हज यात्रा के लिए 450 करोड़ रुपए सब्सिडि दी गई है. पुरी दुनिया भर के मुस्लमान प्रत्येक साल हज यात्रा पर सऊदी अरब के मक्का जाते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here