पैराडाइज पेपर्स मामला, बीजेपी सांसद ने रखा मौन व्रत

पैराडाइज पेपर्स मामला इन दिनों मीडिया में खूब सुर्खियां बटोर रहा है। भारत में इस मुद्दे को लेकर कई नामों में से बीजेपी नेताओं के नाम सामने आए हैं। पैराडाइज पेपर्स मामले में बीजेपी सांसद रविंद्र किशोर तथा पूर्व कैबिनेट मंत्री यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा का नाम शामिल है। इस मामले में जयंत सिन्हा ने कहा है कि उन्होंने अपनी नीजि उद्देश्य से किसी भी प्रकार की किसी भी लेन-देन प्रक्रिया को नहीं किया है।

जयंत सिन्हा ने कहा है कि अगर कोई लेनदेन हुआ भी है तो वह वैध तथा प्रमाणित रूप से किया गया है। जयंत सिन्हा का कहना है कि जय वह मंत्री बने थे तो उन्होंने डी लाइट डिजाइन कंपनी को छोड़ा था तथा सभी संबंधों को भी पीछे छोड़ दिया था। दूसरी तरफ बीजेपी से सांसद ने इस मामले में कुछ भी नहीं कहा बल्कि एक पेपर पर यह लिखा की भगवत यज्ञ के लिए उन्होंने सात दिनों का मौन व्रत रखा हुआ है। इसलिए उन्होंने पैराडाइस मामले में अपना नाम सामने आने पर किसी भी प्रकार की कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। आपको बता दें कि पैराडाइज मामले में विदोशों से टैक्स बचाने के लिए लिए निवेशों या फिर बैंक में जमा संपत्ति की जांच से संबंधित मामला है। इसका खुलासा दुनिया के 92 मीडिया संस्थानों और 382 पत्रकारों ने मिलकर किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here