जीतन राम मांझी के एक बयान से आया बिहार की राजनीति में भूचाल

बिहार की राजनीति में बुधवार को एक बहुत बड़ा फेरबदल देखा गया. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने महागठबंधन में शामिल होने का ऐलान कर दिया है. पिछले कुछ दिनों से खबरें आ रही थी कि जीतन राम मांझी राजद से काफी नाराज चल रहे हैं. बुधवार को लालू प्रसाद यादव के बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव ने उनसे मुलाकात की जिसके बाद जीतन राम मांझी ने महागठबंधन में शामिल होने का ऐलान कर दिया है.

इस दौरान मांझी की तरफ से यह कहा गया की औपचारिक घोषणा रात 8 बजे कर दी जाएंगी लेकिन इस दौरान बीजेपी नेताओं की तरफ से भी है कहा गया कि शाम होते-होते मांझी को मना लिया जाएगा. बुधवार को सुबह के वक्त तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव तथा राजद नेता भोला यादव जीतन राम मांझी से मिलने के लिए उनके आवास गए थे. करीब एक घंटे की बैठक के बाद जीतन राम मांझी ने महागठबंधन में शामिल होने का ऐलान कर दिया. जिसके बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार के एक बहुत बड़े नेता जीतन राम मांझी हैं तथा वे दलितों और पिछड़ों के कई बड़े नेता हैं.

मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने काफी सारे नए काम किए हैं और वह दलितों तथा पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए हमेशा आवाज उठाते रहे हैं. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि मांझी उनके पिता के समान है अब वह साथ आ गए हैं और महागठबंधन में हमेशा उन्हें सम्मान दिया जाएगा. इस मामले में राबड़ी देवी ने कहा कि जीतन राम मांझी का महागठबंधन में वह बहुत स्वागत करती है. मान जी को एनडीए में बेइज्जत किया जा रहा था लेकिन महागठबंधन में उन्हें सम्मान दिया जाएगा और अब वह हमारे साथ है. कांग्रेस की तरफ से भी मांझी के गठबंधन में शामिल होने का स्वागत किया गया है बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि मांझी जी ने देर से ही लेकिन दुरुस्त फैसला लिया है महागठबंधन की और मानसिक विचारधारा एक है.

अन्य बड़ी खबरें-

परंपरागत साधु-संतों से अलग थे जयेंद्र सरस्वती, कई बार विवादों में भी रहे

मध्यप्रदेश उपचुनाव परिणाम 2018: दोनों जिलों में कांग्रेस ने बना रखाी है बढ़त

अपने पीछे इतनी दौलत छोड़ गई श्रीदेवी

अलविदा श्रीदेवी : मौत के पीछे छुपा राज

RHC में निकली भर्तियां, जल्द करें आवेदन

दुनिया की सबसे बड़ी भर्ती के लिए करें जल्द आवेदन

आनंद महिंद्रा ने दिया एप्पल के को-फाउंडर को करारा जवाब, जाने क्यों

एक ही झटके में चली गई हजारों नौकरियां, जाने क्या है मामला

आता है ज्यादा पसीना, तो हो जाएं सावधान

जानें करोड़पति गांव की कहानी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here