GST में पेट्रोल और डीजल लेकिन नहीं मिलेगी राहत

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यह संकेत दिए हैं कि जल्द ही पेट्रोल और डीजल जीएसटी के दायरे में आने वाले हैं. हाल ही में चल रहे शीतकालीन सत्र में विपक्ष की तरफ से यह सवाल पूछा गया था कि केंद्र सरकार पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी में क्यों नहीं ला रही जबकि उसकी खुद की सरकार 19 राज्यों में है.

Petrol and diesel in GST but will not get relief central minister arun jaitley   Petrol and diesel, GST, relief, central minister, arun jaitley
arun jaitley

जिस पर जवाब देते हुए अरुण जेटली ने बताया था कि पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी में लाने के लिए दो तिहाई राज्यों की सहमति जरूरी है. लेकिन जीएसटी के दायरे में आने के बावजूद भी आपकी जेब पर कुछ ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा. सूत्रों की मानें तो सरकार पेट्रोल पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने का विचार कर रही है इसके साथ-साथ केंद्र सरकार पेट्रोल उत्पादों पर वैट लगाने पर भी विचार कर रही है. आपको बता दें अभी सबसे सर्वाधिक वैट महाराष्ट्र राज्य में लगता है जहां पर पेट्रोल पर करीब 43 फीसदी वैट और डीजल पर करीब 26 फीसदी लगता है. इसके अलावा राज्यों की कॉल 40 फीसद कब आएगा स्त्रोत पेट्रोलियम उत्पाद ही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here