अब दो लाख देगी मोदी सरकार

नोटबंदी की सालगिरह पर मोदी सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया है। मोदी सरकार ने कहीं तरह की प्रतिस्पर्धा आयोजन करने की घोषणा की है। जिसमें सरकार दो लाख तक की इनामी राशि देगी। निबंध लेखन, चित्र बनाना, कविता लिखना, वीडियोग्राफी करना आदि पर सरकार प्रतिस्पर्धा कराएगी। इसके साथ-साथ मोदी सरकार का यह मानना है कि इस तरह की प्रतिस्पर्धा लोगों में एक संदेश लेकर जाएंगे कि वह काले धन से सकारात्मकता के साथ लड़े।

PM Modi

वह इस लड़ाई को हर जनमानस तक ले कर जाना चाहते हैं, साथ ही यह उन के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक हैं। आपको याद होगा पिछले साल 8 नवंबर के दिन पीएम मोदी ने 500 व 1000 के नोटों को चलन से बाहर कर दिया था। जिसके बाद देश लोगों की काफी अलग-अलग राय थी। कुछ नहीं कहा कि यह फैसला मोदी सरकार की तानाशाही का एक प्रतीक है, तो कुछ लोगों ने इसे बेहद जरूरी कदम बताया काले धन के खिलाफ। भाजपा के अलावा कोई ऐसा कोई राजनीतिक दल नहीं था जिसने नोटबंदी का समर्थन किया हो। आज भी कांग्रेस काला दिवस मना रही है। व्यापारियों में भी इस नोट बंदी का असर साफ देखा जा सकता है। हालांकि नोटबंदी कितनी सफल रही या असफल रही इसका कोई सही आंकड़ा नहीं है, पर वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार 97 प्रतिशत पैसा बैंकों के पास आ गया है। आसान शब्दों में समझे तो भारतीय अर्थव्यवस्था का कुल 16000 करोड़ रुपए अभी भी बैंकों तक वापस नहीं आया है।

500 व 1000 के नोटों के बंद होने के बाद मोदी सरकार ने 500 का नया नोट 2000 का एक नया नोट निकाला, जिसके पीछे मंगलयान का चित्र चित्र है। नए नोटों की छपाई का कुल खर्चा करीब 21000 करोड़ में रखा गया है। यही एक प्रमुख वजह है कि लोग कह रहे हैं 16,000 करोड़ वापस लाने के लिए 21000 करोड़ रुपए खर्च करने की क्या जरूरत थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here