GES: पूरी दुनिया कि है जिस पर नजर, जानिए क्या है 13 साल के कारोबारी में ऐसा खास

इन दिनों ऑस्ट्रेलिया का एक 13 साल का कारोबारी मीडिया में अपनी अच्छी जगह बना रहा है। हैदराबाद में चल रहे जीईएस (उद्यमिता शिखर सम्मेलन) में 1500 कारोबारियों में से यह सबसे युवा कारोबारी है। 13 साल के इस कारोबारी का नाम हामिश फिनलेसन है। यह एक ऑस्ट्रेलिया में रहने वाला ऐप डेवलपर है। लेकिन जानकारी यह है कि यह कारोबारी को एक खास तरह कि बिमारी है। दरअसल 13 साल के कारोबारी को एक ऐसी बिमारी है जिसमें इंसान अपने आप में ही खोया रहता है।

ges australias 13 year old app developer hamihs is youngest entrepreneur hydrabad ges australias, app developer, hamihs, youngest entrepreneur, hydrabad, business

कारोबारी के बारे में और अधिक जानकारी है कि यह 7वीं कक्षा का छात्र है। बिमारी से ग्रसित होने के बाद भी इसके काम पर किसी भी तरह का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। जानकारी अनुसार 13 साल के कारोबारी ने पांच एप्स बनाए हैं जोकि एएसडी (ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसॉर्डर) से पीड़ित लोगों को मदद करता है। कारोबारी के अनुसार इस बिमारी के बारे में जानने के इच्छुक लोग भी इस ऐप का फायदा उठा सकते हैं तथा इस ऐप की मदद से इस बिमारी से पीड़ित लोगों को डे टू डे टिप्स दी जाती है। जानकारी है कि 13 साल के कारोबारी ने पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए भी चार एप्स बनाए हैं। अपना पहला ऐप उसने 10 साल की उम्र में ही बना दिया था।

आपको बता दें कि हामिश दूसरी बार जीईएस में शामिल हो रहे हैं। इससे पहले उन्होंने साल 2016 में सिलिकॉन वैली में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सेदारी दर्ज कराई थी। 13 साल के कारोबारी ने अपना पहला ऐप 10 साल की उम्र में ‘लिटरबगस्माश’ बनाया था जोकि एक मल्टीमीडिया, मल्टीचैनल एजुकेशनल टूल है। यह ऐप इस कदर डिजाइन किया गया था जिससे सागरों के अंदर कछुओं को सुरक्षा मुहैया कराई जा सके। दरअसल इस ऐप में गेम है तथा इससे चंदा भी इकट्ठा किया जाता है जिससे कछुओं को मदद दी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here