IPL से एक दिन में बने करोड़पति ये भारतीय खिलाड़ी

0
544

IPL 2020: कोलकाता में हुए आईपीएल 2020 कि नीलामी ने भारत के कई युवा क्रिकेटरों की किस्मत बदल दी। इन गुमनाम खिलाड़ियों पर सभी फ्रेंचाइजी ने जमकर पैसा बरसाया। इनमें से अधिकतर खिलाड़ियों का बेस प्राइस 20 लाख था लेकिन इन्हें उम्मीद से कई गुना ज्यादा पैसा मिला। आइए नजर डालते हैं उन खिलाड़ियों पर जो रातों-रात बन गए करोड़पति-

अनुज रावत: उत्तराखंड
बेस प्राइस: 20 लाख 
कीमत: 80 लाख 
टीम: राजस्थान रॉयल्स 

उत्तराखंड के 20 वर्षीय युवा बल्लेबाज अनुज रावत को राजस्थान रॉयल्स ने अपनी टीम में शामिल किया। अनुज ने 12 प्रथम श्रेणी मैचों में एक शतक के साथ 630 रन बनाए हैं।

प्रियम गर्ग: उत्तर प्रदेश
बेस प्राइस: 20 लाख 
कीमत: 1.9 करोड़ 
टीम: सनराइजर्स हैदराबाद 

यूपी के बल्लेबाज प्रियम गर्ग को हैदराबाद की टीम ने अपने साथ जोड़ा। अंडर-19 खिलाड़ी प्रियम गर्ग के नाम 12 प्रथम श्रेणी मैचों में 66.69 की औसत से 867 रन हैं। इसमें दो शतक और पांच अर्धशतक भी शामिल हैं। प्रियम ने 2018-19 विजय हजारे ट्रॉफी में धमाकेदार प्रदर्शन कर 10 मैचों में 814 रन बनाते हुए सभी को प्रभावित किया था। वे अभी तक 12 फर्स्ट क्लास मैचों में 65 से ज्यादा की औसत से 867 रन बना चुके हैं।

यशस्वी जायसवाल: मुंबई
बेस प्राइस: 20 लाख
कीमत: 2.40 करोड़ रुपये
टीम: राजस्थान

उत्तर प्रदेश के भदोही में जन्में लेकिन मुंबई के लिए खेलने वाले बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल कभी सड़क पर गोल-गप्पे बेचते थे, लेकिन आज वह करोड़ों में खेल रहे हैं। जायसवाल जब उत्तर प्रदेश से मुंबई गए थे तब उनकी उम्र महज 11 साल थी। वहां उन्हें टेंट में रहना पड़ता था। लेकिन उनका क्रिकेटर बनने का सपना मरा नहीं और उन्होंने इसके लिए जमकर मेहनत की। उन्होंने कहा, मैं खुश हूं। मेरे लिए यह सीखने का काफी अच्छा मौका होता। यह मेरे लिए अपना नाम बनाने का मंच है।

वरुण चक्रवर्ती 
पिछली बार 8.40 करोड़ रुपये में बिकने वाले वरुण चक्रवर्ती को इस बार कोलकाता नाइट राइडर्स ने 4 करोड़ में खरीदा। सात अलग-अलग तरह की गेंद फेंकने में माहिर वरुण को पंजाब ने इस बार अपनी टीम से रीलिज कर दिया था, जिसके बाद केकेआर ने उन्हें बतौर पीयूष चावला के रिप्लेसमेंट टीम में शामिल किया।

रवि बिश्नोई: राजस्थान
कीमत: 2 करोड़
टीम: पंजाब
19 साल के रवि बिश्नोई को लेने के लिए कई फ्रेंचाइजी ने बोली लगाई लेकिन बाजी पंजाब ने मारी। उनके नाम छह प्रथम श्रेणी में आठ विकेट दर्ज हैं। रवि बिश्नोई को अगले साल होने वाले अंडर-19 वर्ल्डकप के लिए भी भारतीय टीम में चुना गया है। गेंदबाजी के अलावा रवि विश्नोई बल्लेबाजी भी कर लेते हैं। बिश्नोई पहले ही 2018 में राजस्थान रॉयल्स के अभ्यास शिविर का हिस्सा बने थे। इसमें उन्होंने जोस बटलर को नेट पर गेंदबाजी भी कराई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − fifteen =